मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने त्योहार के ठीक एक दिन पहले प्रदेश भर के अफसरों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की। उन्होंने अफसरों को साफ कर दिया कि आत्मनिर्भर MP महज दस्तावेज नहीं है, ये हमारा संकल्प है, इसे धरातल पर उतारा जाएगा। बिना एक क्षण गंवाए पूरी क्षमता से अपने आपको प्रदेश की प्रगति और विकास के लिए समर्पित कर दिया है।
सीएम शिवराज ने कहा कि मैरिट के आधार पर अफसरों की नियुक्ति की जाएगी। इसका आधार परफार्मेंस होगा। उन्होंने कहा कि मैं सिर्फ काम चाहता हूं। विभागीय अफसर ध्यान रखें और दायित्व निभाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि चीफ सेक्रेटरी हैं, कोई कठिनाई आए तो बताएं, लेकिन हर काम वेल प्लांड करें। हर माह वीसी होगी, समीक्षा करेंगे और परफॉर्मेंस देखेंगे।
भारत सरकार की हर योजना मे मध्य प्रदेश को नंबर वन रहना होगा। इसके लिए डैश बोर्ड बनेगा। सीएमओ स्तर से रैंडम-ली जांच के लिए कमेटी होगी। सीएम शिवराज ने विदिशा की अच्छे काम के लिए तारीफ की।
बता दें कि सीएम शिवराज ने गुरुवार को मिंटो हाल में एमपी का रोडमैप 2023 जारी किया था। इसमें उन्होंने अलग-अलग बिंदुओं पर विकास का दस्तावेज पेश किया था। इसके अगले दिन शु़क्रवार को उन्होंने संभागायुक्त, आईजी, कलेक्टर और एसपी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *