पंजाब में थर्मल पावर प्लांटों में कोयले की सप्लाई देश के दूसरे राज्यों से मालगाड़ियों के जरिये ही होती है। लेकिन किसानों के आंदोलन के दौरान रेल परिचालन रोके जाने के बाद से रेलवे ने मालगाड़ियों का परिचालन पूरी तरह से रोक दिया है, जिससे कोयले की सप्लाई ठप है।
पंजाब में कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के रेल रोको आंदोलन के चलते रेल सेवा पूरी तरह ठप है। हालांकि किसानों ने ट्रैक से मालगाड़ियों के परिचालन की अनुमति दे रखी है, इसके बावजूद भारतीय रेलवे ने पंजाब से गुजरने वाली तमाम मालगाड़ियों को रद्द कर रखा है। मालगाड़ियों का परिचालन पूरी तरह बंद होने से पंजाब में थर्मल पावर प्लांट को कोयले की सप्लाई रुक गई है, जिससे पंजाब में ब्लैकआउट का खतरा पैदा हो गया है।
जानकारी के अनुसार पंजाब में थर्मल पावर प्लांटों में कोयले की सप्लाई देश के दूसरे राज्यों से मालगाड़ियों के जरिये ही होती है। लेकिन किसानों के आंदोलन के दौरान रेल परिचालन रोके जाने के बाद से रेलवे ने मालगाड़ियों का परिचालन पूरी तरह से रोक दिया है। हालांकि, बीते दिनों आंदोलनरत किसान संगठनों ने पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह की अपील पर मालगाड़ियों के परिचालन की मंजूरी दे दी थी।

इसके बावजूद केंद्र सरकार ने पंजाब में मालगाड़ियों का परिचालन रोक रखा है। रेल मंत्रालय ने पंजाब सरकार से मालगाड़ियों और रेलवे ट्रैक की पूरी सुरक्षा की गारंटी लेने पर ही मालगाड़ियों को चलाने की शर्त रखी है। केंद्र सरकार और किसानों की इस लड़ाई की वजह से अब पंजाब पर ब्लैकआउट का खतरा मंडरा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *